Tuesday, October 19, 2010

क्या साइंटिफिक लोजिक का आधार न्यूटन ने दिया था?

न्यूटन का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है। कोई बच्चा जब साइंस की दुनिया में कदम रखता है तो जिस साइंसदां से सबसे पहले परिचित होता है, वह न्यूटन है। सत्रहवीं सदी में पैदा हुआ ब्रिटिश साइंसदान आइजक न्यूटन भौतिकविद, फिलास्फर, गणितज्ञ, खगोलशास्त्री सभी कुछ था। उसने गुरुत्वाकर्षण की खोज की थी। साथ ही यह भी माना जाता है कि उसी ने सबसे पहले साइंटिफिक लॉजिक या साइंटिफिक सोच को परिभाषित किया।
लेकिन क्या वास्तव में यह सच है? जानने के लिए पढ़ें मेरी यह पोस्ट. 

8 comments:

बुलंद ख़याल said...

बुलंद ख़याल है आपका , आप जैसा ही मैं भी हूँ .

हक़ीक़त said...

आपने अच्छा सवाल उठाया है , लेकिन इसका जवाब कौन देने के लिए आएगा कौन ?
ये लोग सिर्फ ऐतराज़ करना जानते हैं , बस .

अनवार जमाल said...

Nice post ;;;;;;;;
Very nice thought,,
सय्यद साहब "के" करके मानोगे , थम भी जाओ ज़रा , लोगों के पेट मरोड़ हो रही है की कहीं लोग ईमान ही न ले आवें सचमुच .

किश्ती ए नूह के सवार की औलाद said...

I love you , We will meet in arafaat , Insha Allah .

zeashan zaidi said...

लोगों के पेट में मरोड़ तो उठते ही रहते हैं जनाब!

zeashan zaidi said...

@Kishti....
Insha Allah!

zeashan zaidi said...

@हकीकत
जवाब भी मैं ही दे रहा हूँ बशर्ते की लोग समझें!

Anonymous said...

Aap Newton ko kabhi nahin samajh sakte.