Wednesday, June 16, 2010

ब्लैक होल क्या है?

कभी कभी साइंस की कुछ चीज़ें धर्म से इतना ज्यादा मिलती जुलती हैं की यही लगता है धर्म उन चीज़ों की खोज पहले ही कर चुका है, और उस समय के लोगों की बुद्धि के अनुसार उनका रूपांतरण करके प्रस्तुत कर चुका है. आइये धर्म में देखते हैं ब्लैक होल कहाँ है! 

5 comments:

Mohammed Umar Kairanvi said...

वाह भाई आपको तो वोट देना आता है खेर दूसरा हमने दे दिया, अच्‍छा तरीका है यह भी पहले से आप इसका इस्‍तेमाल नहीं कर रहे थे, बहुत नुक्‍सान कर दिया, अल्‍लाह माफ करे

माधव said...

ablack hole is a dead star

सलीम ख़ान said...

HAAN SAHI KAHA KAIRANVI BHAI AAPNE

सहसपुरिया said...

GOOD POST

talib د عا ؤ ں کا طا لب said...

मुहतरम मुहब्बी भाई,
अस्सलाम अल्लैकुम व्राह्मतुल्लाह वबराकाताहू !
मैं भी हमारी अंजुमन का एक अदना सा मेंबर हूँ.हाँ कुछ सबब हैं जिसके बायस मैं वहाँ फिलवक कुछ ताऊन दे पाने में क़ासिर हूँ. हाँ कमेन्ट करने की हत्तल इमकान कोशां रहता हूँ.

अंजुमन में ब्लॉग लिंक देने का रिवाज नहीं है.अच्छी बात है.
लेकिन बिरादरान !! आप लोग अपने ब्लॉग पर तो 'दीन-दुन्या' का लिंक बसद शौक़ दे सकते हैं.मैंने जितने लिंक मिल सके हैं देने की कोशिश की है.और हाँ कभी फुर्सत मिले तो वहाँ घूम भी आया करें, क्या ज़हमत होगी !! और वक़्त रहा तो चंद अलफ़ाज़ नवाज़ आयें, मैं फ़र्त -ए -मुसर्रत से झूम जाऊं !

उम्मीद की इस अदने सी गुज़ारिश को नज़र अंदाज़ नहीं किया जाएगा !

वस्सलाम